गोवा: स्मृति ईरानी की बेटी को रेस्तरां चलाने के मामले में कांग्रेस ने घेरा, फर्जीवाड़े का आरोप

नई दिल्ली,

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की बेटी के गोवा स्थित रेस्त्रां को लेकर कांग्रेस ने बड़ा हमला किया है. कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने कहा कि वह जिस पार्टी से जुड़ी हैं, उनकी बेटी भी बहुत संस्कारी होनी चाहिए, लेकिन वो गोवा में एक रेस्टोरेंट चला रही है, जिसने 13 महीने पहले मरे हुए एक शख्स के नाम पर फर्जी लाइसेंस हासिल किया है.

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि गोवा में कानून एक व्यक्ति को एक लाइसेंस की अनुमति देता है. इसे “तुलसी संस्कारी बार”, बल्कि “सिली सोल बार” कहा जाता है. इस रेस्टोरेंट में एक नाम के तहत दो लाइसेंस हैं. इसके पास एक रेस्टोरेंट नीति के तहत लाइसेंस भी नहीं है. आपकी पार्टी के लोग लुलु मॉल, हनुमान चालीसा के दीवाने हैं और उनके बच्चे संरक्षण में भ्रष्टाचार में लिप्त हैं. जिस अधिकारी ने लाइसेंसधारियों को नोटिस दिया था. जाहिर तौर पर उसका तबादला किया जा रहा है. गोवा के उस बार में सुरक्षा बल (बाउंसर) घूम रहे हैं.

इस बारे में जवाब दें स्मृति ईरानी: कांग्रेस
पवन खेड़ा ने स्मृति ईरानी से इस मामले में जवाब देने के लिए कहा. उन्होंने कहा कि वह राहुल गांधी पर नेशनल हेराल्ड केस में सवाल पूछती हैं, लेकिन सिली सोल बार के बारे में कोई जवाब नहीं देती हैं. गोवा के इस अवैध बार को नोटिस भेजने का साहस दिखाने वाले आबकारी कमिश्नर की आज तलाश की जा रही है. स्मृति ईरानी, पीएम की सबसे पसंदीदा भी हैं, लेकिन उन्हें मोदी सरकार में मंत्री पद से हटाया जाना चाहिए.

अलका ने साधा ईरानी और केजरीवाल पर निशाना
कांग्रेस नेता अलका लांबा ने स्मृति ईरानी को घेरते हुए पूछा कि उनकी बेटी गोवा में अवैध रूप से हासिल किए गए लाइसेंस के तहत सिली सोल बार चल रही है. स्मृति ईरानी को इस बारे में जवाब देना चाहिए.

अलका लांबा ने अरविंद केजरीवाल से पूछा कि अकाली दल के विधायक दीप मल्होत्रा, जो मजीठिया के साथ मिले हैं. उन्हें आप द्वारा शराब लाइसेंस का लाभ क्यों दिया गया. सत्येंद्र जैन के आरोपों पर अरविंद केजरीवाल चुप क्यों हैं? अब यह मनीष सिसोदिया हैं, जिन्होंने अपने ही शराब कारोबारियों के लिए ₹30 करोड़ का लाइसेंस शुल्क माफ कर दिया है. यह पार्टी आंदोलन से शुरू हुई है. जब राहुल या सोनिया गांधी के सवाल की बात आती है तो हम विरोध कर रहे हैं. उन्हें क्या हुआ? वे सड़कों पर क्यों नहीं हैं? उन्होंने गुजरात और हिमाचल चुनाव के लिए खुद से समझौता किया है.

तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने किया पलटवार
इस मामले पर दिल्ली बीजेपी प्रवक्ता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने कांग्रेस पर पलटवार किया है. बग्गा ने कहा कि स्मृति ईरानी की बेटी रेस्टोरेंट की मालिक नहीं है. इसलिए उन्हें नोटिस भेजे जाने का सवाल ही नहीं उठता. स्मृति की ईरानी 18 साल की बेटी फिलहाल भारत से बाहर पढ़ाई कर रही है. यह राजनीतिक कारणों से एक लड़की के नाम को बदनाम करने के लिए मानहानि का मामला है.

कांग्रेस के लोग राहुल और प्रियंका के निर्देश पर 18 साल की लड़की को टारगेट कर रहे हैं क्योंकि वह स्मृति ईरानी की बेटी है. स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी को अमेठी में हराया था. स्मृति जी की बेटी अमेरिका में पढ़ाई कर रही है, उसका बार के साथ कोई संबंध नहीं है.

क्या है पूरा मामला
स्मृति ईरानी की बेटी जोइश ईरानी गोवा के अस्सागाव में एक सिली सोल्स कैफे एंड बार नाम से एक पॉश रेस्त्रां चलाती हैं. ईरानी की बेटी का सिली सोल बार अब विवादों में फंस गया है. जानकारी के मुताबिक, रेस्त्रां पर एक मृत व्यक्ति के नाम पर शराब का लाइसेंस लेने का आरोप है. गोवा के एक्साइज कमिश्नर ने झूठे दस्तावेजों के जरिए लाइसेंस लेने की शिकायत पर रेस्त्रां को नोटिस जारी किया है.

About bheldn

Check Also

NEET-NET पेपर लीक मामले में केंद्र का बड़ा एक्शन, NTA के महानिदेशक सुबोध कुमार सिंह को हटाया

नई दिल्ली, नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) के महानिदेशक (DG) सुबोध कुमार को पद से हटा …