‘कहां है महंगाई, लोगों की इनकम बढ़ी है… हालात से अंधा हूं’, आजम का तंज

मुरादाबाद,

समाजवादी पार्टी (सपा) नेता आजम खान ने राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव का बचाव किया है. मुरादाबाद में गुरुवार को आजम खान ने कहा, ‘इस बार जब वह अखिलेश यादव से मिलेंगे तो उन्हें तीर कमान देंगे और उनसे कहेंगे जो उनके ऊपर निशाना लगा रहा है, वो उस पर निशाना लगाएं.’ आजम ने कई सवालों पर तंज कसा.

दरअसल, सपा नेता आजम खान गुरुवार को मुरादाबाद की एमपी एमएलए कोर्ट में अपने विधायक बेटे अब्दुला आजम खान के साथ पेश होने पहुंचे थे. इस दौरान आजम खान से ईडी की छापेमारी पर सवाल पूछा गया था, तो उन्होंने कहा कि हम देखते ही नहीं है, चश्मा लगा हुआ है, अंधे हैं, कान नहीं है, बहरे हैं, जुबान नहीं है, गूंगे हैं.

कांवड़ यात्रा को लेकर असदुद्दीन ओवैसी के बयान पर आजम खान ने कहा, ‘उनके बयान के लिए मैं जिम्मेदार नहीं हूं, मैंने गलत को सही कहा ही नहीं, मैंने कहा ना मुझे कुछ लगता और न ही मेरी खोपड़ी में बुद्धि है, न ही आंखों में रोशनी, न ही मुंह में जुबान, देखो चश्मा लगा रखा है, हां सूरदास नहीं हूं, जन्म से अंधा नहीं हूं, हालात से अंधा हूं.’

महंगाई के सवाल पर सपा नेता आजम खान ने कहा, ‘कहां है महंगाई? देखिए जहां आमदनी ज्यादा हो गई, वहां महंगाई से फर्क ही नहीं पड़ता, अब यह सब जितने बच्चे खड़े हैं, इन सब बच्चों की पांच-पांच लाख आमदनी होगी, आमदनी ज्यादा हो तो महंगाई पता नहीं चलती, हमारे यहां पर कैपिटा इनकम इतनी ज्यादा है कि महंगाई कुछ है ही नहीं.’

उत्तर प्रदेश प्रदेश में समाजवादी पार्टी नहीं बनने पर सपा नेता आजम खान ने तंज भरे अंदाज में कहा, ‘सरकार तो नहीं बनी दोस्त, हम सिकंदर तो हो नहीं पाए, बंदर जरूर बन गए, कभी रामपुर कोर्ट में कभी मुरादाबाद में कभी मुंबई में कभी लखनऊ में कभी फिरोजाबाद में मदारी के बंदर हो गए.

About bheldn

Check Also

साइंस कॉलेज चौपाटी दूसरे स्थान पर होगी शिफ्ट, राजेश मूणत ने दिए निर्देश

रायपुर। राजधानी रायपुर में स्थित साइंस कॉलेज की चौपाटी दूसरे स्थान पर शिफ्ट होगी। दरअसल …