मोरबी हादसे के बाद नदी में कूदने वाले कांतिलाल अमृतिया ने लगाई टिकट की ‘छलांग’, बृजेश मेरजा का कटा पत्ता

अहमदाबाद

गुजरात विधानसभा चुनाव से पहले मोरबी पुल हादसे ने पुरे देश में सनसनी मचा दी थी। हादसे ने 143 लोगों की जान चली गई। हादसे की कई दर्दनाक तस्वीरें और वीडियो वायरल हुए। इसी दौरान एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें एक शख्स को नदी में छलांग लगाकर लोगों की जान बचाते देखा गया। यह वीडियो था गुजरात के पूर्व विधायक, कांतिलाल अमृतिया का। जिन्हें बीजेपी ने मोरबी हादसे में लोगों को जान बचाने की इनाम दिया है। बीजेपी ने कांतिलाल को मोरबी से प्रत्याशी बनाया है। वहीं यहां से मौजूदा विधायक बृजेश मेरजा का पत्ता काट दिया गया है। बृजेश मेरजा पिछले विधानसभा चुनाव से पहले ही कांग्रेस से पाला बदलकर बीजेपी में आए थे।

गुजरात में जहां मोरबी हादसा हुआ वहां पर पूर्व विधायक, कांतिलाल अमृतिया भी मौजूद थे। उनकी आंखों के सामने ही पुल टूटा और सैंकड़ों लोग नदी में गिर गए। अपनी जान की परवाह किए बगैर, बिना कुछ सोचे-समझे पूर्व विधायक नदी में कूद पड़े। एक ट्यूब पहनकर वे नदी में उतरे और लोगों को ढूंढने लगे। इसके साथ ही उन्होंने लोगों को भीड़ न बढ़ानं के लिए भी कहा।

अपेक्षा पर खरे नहीं उतरे बृजेश
मोरबी विधानसभा सीट पर 2017 के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को हार मिली थी। यहां से बृजेश मेरजा चुनाव लड़े थे। हालांकि चुनाव में जीतने के बाद वह बीजेपी में आ गए थे और बीजेपी ने उन्हें राज्य का मंत्री भी बनाया था। लेकिन विधायक से लेकर मंत्री बनने तक मेरजा जनता की अपेक्षा में खरे नहीं उतरे। मोरबी हादसे ने जहां पूरे देश को बेचैन कर दिया, बृजेश मेरजा यहां नजर नहीं आए। लोगों में उन्हें लेकर भारी गुस्सा था।

कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में आए थे मेरजा
2017 में कांग्रेस के जीते हुए विधायक बृजेश मेरजा ने पाला बदला और बीजेपी के पास चले गए। सीट पर उपचुनाव हुआ, बीजेपी ने बृजेश को ही टिकट दिया और वो जीत भी गए। इस तरह से जिस सीट को बीजेपी ने 2017 में हारा था, आज की तारीख में वो सीट बीजेपी के पास ही है। अब बीजेपी ने उनकी टिकट काटकर कांतिलाल को उम्मीदवारी दी है।

बीजेपी ने इसलिए बड़ा दांव
मोरबी सीट पर पाटीदार निर्णायक भूमिका में रहे हैं। पाटीदार आंदोलन के कारण पिछली बार कांग्रेस को फायदा हुआ था। मेरजा जब बीजेपी में गए तो उन्हें मंत्री भी बना दिया गया, लेकिन आज उनकी स्थिति ठीक नहीं हैं। मोरबी पुल हादसे के कारण बीजेपी आलोचनाओं में घिरी है, मेरजा से भी लोग नाराज बताए जा रहे हैं, ऐसे में कांग्रेस को यहां एक बार फिर से फायदा मिल सकता था इसलिए कांतिलाल को बीजेपी ने टिकट देकर बडा दांव खेला है।

About bheldn

Check Also

जहां अफसर मतदान में देरी करते रहे, वहीं बीजेपी के लिए काम करता रहा चुनाव आयोग, उद्धव ठाकरे ने लगाए गंभीर आरोप

मुंबई शिवसेना (यूबीटी) के अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने सोमवार को आरोप लगाया कि मुंबई में …