अपार्टमेंट बना शोला, जान बचाने भागे तो पुलिस ने भस्म होने के लिए वापस भेजा, चीन में ये कैसा लॉकडाउन

बीजिंग

चीन में एक अपार्टमेंट ब्लॉक में आग लगने से 10 लोगों की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि जब लोग आग से बचने के लिए बाहर भागे तो पुलिस ने उन्हें वापस मरने के लिए भेज दिया। कोरोना की सख्ती के कारण ऐसा किया गया था। अब इस सख्ती से लोगों के सब्र का बांध टूट रहा है। जगह-जगह प्रदर्शन देखने को मिल रहा है। सोशल मीडिया पर तस्वीरें सामने आ रही हैं। सोशल मीडिया पर साझा किए गए एक वीडियो में दिख रहा है कि लोग सड़कों पर प्रदर्शन कर रहे हैं।

पश्चिमी शिंजियांग क्षेत्र की राजधानी उरुमकी में लोग अधिकारियों के सामने बैरियर तोड़ते हुए कोरोना लॉकडाउन खत्म करने के नारे लगा रहे हैं। चीन में जीरो कोविड पॉलिसी के बावजूद कोरोना संक्रमण बढ़ता जा रहा है। उरुमकी के अधिकारियों ने अब कोरोना प्रतिबंधों को चरणबद्ध तरीके से खत्म करने का वादा किया है। हालांकि उन्होंने इस बात से इनकार कर दिया कि लोगों को आग वाली बिल्डिंग से बाहर नहीं निकलने दिया गया। उरुमकी नें अगस्त की शुरुआत से ही कोरोना प्रतिबंध लागू हैं।

अधिकारियों ने मांगी माफी
BBC की रिपोर्ट के मुताबिक जिस बिल्डिंग में आग लगी थी, उसमें रहने वालों ने बताया कि बड़े पैमाने पर लोगों को बाहर निकलने से रोका गया। जबकि चीन की मीडिया ने इसे नकार दिया है। उरुमकी के अधिकारियों ने शुक्रवार को देर रात माफी मांगी। ये माफी किस लिए थी, यह नहीं बताया गया। लेकिन उन्होंने कहा कि जिसने भी अपनी ड्यूटी सही से नहीं निभाई है उसे दंडित किया जाएगा। वीडियो में दिख रहा है कि शुक्रवार को नागरिक मास्क लगा कर सड़कों पर इकट्ठा हुए।
china (5)

सोशल मीडिया से हटाया गया प्रदर्शन
एक प्रदर्शनकारी शहर की एक आधिकारिक बिल्डिंग के सामने माइक से चिल्ला रहा है। कुछ लोगों ने इस प्रदर्शन को लाइव स्ट्रीम भी किया। शुक्रवार की रात को हुए प्रदर्शन की हर डिटेल शनिवार की सुबह तक सोशल मीडिया से गायब हो गई। स्थानीय मीडिया ने कहा कि गुरुवार को उरुमकी अपार्टमेंट में भयानक आग लगी थी, जिसमें 9 लोग घायल हो गए। सोशल मीडिया पर कहा गया कि कोरोना प्रतिबंधों के कारण फायर ब्रिगेड को समस्या का सामना करना पड़ा।

About bheldn

Check Also

2040 तक अमेरिका में जन्म दर से ज्यादा होगी मृत्यु दर, यूएस कांग्रेस को अलग ही टेंशन

वॉशिंगटन अमेरिका में अगले 15 साल में मृत्यु दर के जन्म दर से आगे निकलने …