‘तुनिशा का बॉयफ्रेंड नहीं जिम ट्रेनर था अली, शीजान के परिवार ने बोला झूठ’

टीवी एक्ट्रेस तुनिशा शर्मा सुसाइड मामले में हर रोज एक नया एंगल सामने आ रहा है. कुछ दिनों पहले एक्ट्रेस की डेथ में गिरफ्तार हुए उनके को-स्टार शीजान खान कोर्ट में पेश हुए थे. इस दौरान शीजान के वकील ने तुनिशा शर्मा को लेकर कहा था कि शीजान से ब्रेकअप के बाद तुनिशा, अली नाम के लड़के से एक डेटिंग एप पर मिली थीं. तुनिशा और अली के साथ 21-23 दिसंबर तक थीं. दोनों मिले थे. सुसाइड से पहले 15 मिनट उन्होंने अली से फोन पर बात की थी.

तुनिशा के मामा ने किया रिएक्ट
अब इसी पर तुनिशा के मामा पवन शर्मा का बयान आया है. उन्होंने क्लियरली बताया है कि अली, तुनिशा के जिम ट्रेनर थे. आजतक डॉट इन संग बातचीत में पवन शर्मा ने कहा, “अली को वह और तुनिशा की फैमिली कई सालों से जानते हैं. आज से लगभग पांच साल पहले अली, तुनिशा का फिटनेस ट्रेनर था. उसके बाद अली काफी समय से हमारे कॉन्टैक्ट में नहीं था. शीजान से ब्रेकअप के बाद तुनिशा ने जब डेटिंग ऐप पर अली को देखा, तो वह दोनों जिम की बात को लेकर ही कनेक्ट हुए थे.”

पवन शर्मा ने आगे कहा कि तुनिशा और अली का एक- दूसरे से परिचय था, इसलिए उन्होंने नंबर एक्सचेंज किया था. तुनिशा ने अली की बात परिवार वालों को बताई थी. इनफैक्ट हमें यह भी पता था कि तुनिशा, अली से डिनर और कॉफी में मिलने जा रही हैं. इन दोनों की दोस्ती ही थी. अली को मैं भी पर्सनली जानता हूं. तुनिशा, अली से शीजान और अपने ब्रेकअप का ही जिक्र किया करती थीं. 23 दिसंबर से पहले तुनिशा और अली की दो- तीन बार मुलाकात हुई थी. लेकिन मुझे शीजान के वकील की तरफ से अली को तुनिशा का बॉयफ्रेंड बताना बेतुका लगा. अली और तुनिशा एक अच्छे दोस्त थे. इससे ज्यादा और कुछ नहीं थे.

बता दें कि तुनिशा शर्मा ने 24 दिसंबर को सीरियल ‘अलीबाबाः दास्तां-ए-काबुल’ के सेट पर आत्महत्या कर ली थी. शीजान खान ही इन्हें अस्पताल लेकर गए थे, जहां तुनिशा को मृत घोषित कर दिया था. इसके बाद तुनिशा की मां ने शीजान पर कई गंभीर आरोप लगाए थे. तभी से इस मामले पर कई पेंच फंसे नजर आ रहे हैं. शीजान खान, इस समय पुलिस की कस्टडी में हैं. 11 जनवरी को सुनवाई होनी है.

About bheldn

Check Also

‘नीतीश का दर्द न जाने कोय’, मुख्यमंत्री पर आंखें तरेर रहे एनडीए के साथी और जेडीयू नेता, जानिए

पटना भाजपा के साथ जाकर नीतीश कुमार फंस गए लगते हैं। अधिकारी उनकी बात नहीं …