‘इंदिरा-राजीव गांधी की हत्या शहादत नहीं हादसा’, बोले धामी सरकार के मंत्री

नई दिल्ली,

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भारत जोड़ो यात्रा के दौरान कहा था कि बीजेपी वाले कभी भी किसी को खोने का दर्द नहीं समझ पाएंगे. उनके परिवार ने उस दर्द को करीब से महसूस किया है. उनकी तरफ से अपनी दादी इंदिरा गांधी और पिता राजीव गांधी का जिक्र किया गया. उन्होंने इसे शहादत बताया था. अब उत्तराखंड सरकार में मंत्री गणेश जोशी ने राहुल गांधी के उस बयान पर निशाना साधा है. उनकी समझदारी पर सवाल उठाते हुए कहा गया है कि एक्सीडेंट और शहादत में फर्क होता है.

मंत्री ने उठाए राहुल गांधी की समझदारी पर सवाल
मीडिया से बात करते हुए गणेश जोशी ने कहा कि मुझे राहुल गांधी की समझदारी पर दया आती है. शहादत कोई गांधी परिवार का अधिकार थोड़ी है. भारत जब आजाद हुआ था, भगत सिंह, सावरकर, चंद्र शेखर आजाद का बलिदान देखा गया था. गांधी परिवार के सदस्यों के साथ जो हुआ था, उसे तो एक्सीडेंट कहते हैं. एक्सीडेंट और शहादत में फर्क होता है. लेकिन मैं जानता हूं कि हर कोई अपनी समझदारी के हिसाब से ही जवाब दे सकता है.

राहुल गांधी ने क्या कहा था?
अब जानकारी के लिए बता दें कि गणेश जोशी उत्तराखंड सरकार में कृषि मंत्री हैं. उनके पास कई दूसरे अहम पोर्टफोलियों भी हैं. इससे पहले भी उनके कई बयान ऐसे ही चर्चा का विषय बन चुके हैं. वैसे राहुल गांधी ने भारत जोड़ो यात्रा के दौरान श्रीनगर से लोगों को संबोधित किया था. उस दिन उनकी तरफ से अपनी दादी, अपने पिता राजीव गांधी का जिक्र किया गया था. उन्होंने कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमित शाह, संघ कभी भी किसी को खोने का दर्द नहीं समझ सकते हैं. जो नफरत फैलाने का काम करते हैं, वो उस दर्द से कोसो दूर हैं. राहुल गांधी ने यहां तक कहा था कि जवान के परिवार को सबसे ज्यादा डर फोन कॉल से लगता है. क्या पता उस फोन कॉल से क्या समाचार मिलने वाला है. उन्होंने कहा था कि वे उस तरह की फोन कॉल को ही बंद करवाना चाहते हैं. वे किसी की भी शहादत नहीं चाहते.

About bheldn

Check Also

IPL: राजस्थान से हारकर बाहर हुई कोहली की RCB, अब खिताब से 2 कदम दूर संजू की सेना

अहमदाबाद इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) एलिमिनेटर में संजू सैमसन की कप्तानी वाली राजस्थान रॉयल्स ने …