प्रस्तावित थल सेना भवन निर्माण की बड़ी बाधा हुई दूर, वृक्षारोपण और पेड़ों की कटाई को मिली मंजूरी

नई दिल्ली

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने दिल्ली छावनी क्षेत्र में प्रस्तावित थल सेना भवन के लिए भूमि उपलब्ध कराने की खातिर वृक्षारोपण और पेड़ों की कटाई के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। सरकार के एक अधिकारी ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। सरकार ने प्रतिपूरक वृक्षारोपण को अनिवार्य कर दिया है जिसके तहत इमारत और इसके परिसर से हटाए गए पेड़ों की संख्या के 10 गुना पौधे लगाए जाएंगे।

5790 नए पौधे लगाए जाएंगे
अधिकारी ने कहा कि इस प्रस्ताव के तहत कुल 5790 नये पौधे लगाए जाएंगे जिसे दिल्ली के मुख्यमंत्री ने मंजूरी दे दी है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने फरवरी 2020 में थल सेना भवन का शिलान्यास किया था। इस सात मंजिला कॉम्पलेक्स का डिजाइन ‘उगते सूर्य की तरह’ होगा और इसका विस्तार करीब 39 एकड़ भूमि पर होगा।

5 साल में बन कर होगा तैयार
सेना के अधिकारियों के मुताबिक इसमें कुल 6014 ऑफिस बनाए जाने हैं। इसमें 1684 मिलिट्री और सिविलियन ऑफिसर होंगे। इसके अलावा 4330 सब स्टाफ होगा। साल 2020 में शिलान्यास के समय बताया गया था कि ये भवन करीब 5 साल में बनकर तैयार होगा। इस भवन की वजह से करीब 2 लाख घंटे का स्किल्ड और अस्किल्ड काम पैदा होने की बात भी कही गई थी। इसके अलावा युवाओं के लिए नौकरी के नए अवसर पैदा होने का जिक्र था।

About bheldn

Check Also

INDIA ब्लॉक की 1 जून को मीटिंग बुलाने के पीछे क्या है खड़गे और कांग्रेस की रणनीति? 5 Point में समझें

नई दिल्ली, लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण का मतदान बाकी है और कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन …