मेघालय में NDA सरकार का रास्ता साफ, UDP ने CM संगमा को दिया लिखित समर्थन

शिलांग,

पूर्वोत्तर के राज्य मेघालय में चुनावी नतीजे सामने आने के बाद अब सरकार बनाने की कवायद जारी है. नवनिर्वाचित विधायकों के शपथ ग्रहण समारोह और अध्यक्ष के चुनाव के लिए मेघालय विधानसभा का विशेष सत्र भी बुलाया गया है. राज्य में अब यह स्पष्ट हो गया है कि UDP की मदद से NPP+ BJP गठबंधन की ही सरकार बनने जा रही है.

यूनाइटेड डेमोक्रेटिक पार्टी और पीपुल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट ने NPP+ BJP गठबंधन को औपचारिक समर्थन दिया है. फिलहाल राज्य की मौजूदा स्थिति यह है कि सभी एनपीपी और बीजेपी सदस्यों को मिलाकर 45 विधायक कोनराड संगमा की सरकार का समर्थन करते हैं. उल्लेखनीय है कि चुनाव जीतने वाले हिल स्टेट पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के दो विधायकों ने भी दो अन्य निर्दलीय विधायकों के साथ एनपीपी-बीजेपी गठबंधन को अपना समर्थन देने का वादा किया है.

किस पार्टी ने जीतीं कितनी सीटें?
मेघालय में गुरुवार को विधानसभा चुनाव के नतीजे आए थे. राज्य में किसी भी पार्टी को पूर्ण बहुमत नहीं मिला. हालांकि, 26 सीटों के साथ मौजूदा सत्ताधारी पार्टी एनपीपी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी. पार्टी को 59 में से 26 में जीत मिली. वहीं, यूडीपी दूसरी सबसे बड़ी पार्टी रही. पार्टी ने 11 सीटों पर जीत हासिल की. वहीं, ममता बनर्जी की टीएमसी राज्य में 5 सीटें जीतने में सफल रही. बीजेपी को 2 सीटें मिलीं. इसी चुनाव में उतरी वॉइस ऑफ पीपुल्स पार्टी चार सीटें जीतने में शपल रही. वहीं, HSPDP और पीडीएफ 2-2 सीटें जीतने में सफल रहीं. जबकि दो निर्दलीय भी चुनाव जीते.

सोमवार को होगी सदन की पहली बैठक
बताते चलें कि 59 सदस्यों वाले नए सदन की पहली बैठक सोमवार को होगी, जब प्रोटेम स्पीकर विधायकों को पद की शपथ दिलाएंगे. स्पीकर, आयुक्त और विधानसभा के सचिव एंड्रयू सिमंस के चुनाव के लिए नौ मार्च को फिर से सदन की बैठक होगी. भाजपा समर्थित एनपीपी के नेतृत्व वाले गठबंधन ने कोनराड के संगमा के नेतृत्व में मेघालय में अगली सरकार बनाने का दावा पेश किया है.

About bheldn

Check Also

केके पाठक को लेकर बिहार विधानसभा में फिर हंगामा, राबड़ी देवी ने भी उठाए सवाल

पटना, बिहार विधानसभा में शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव केके पाठक को लेकर गुरुवार …