तेज प्रताप के बाद शिक्षा मंत्री धीरेंद्र शास्त्री पर भड़के, कहा- ‘गंदे’ काम की नहीं मिलेगी इजाजत

किशनगंज,

बागेश्वर धामा वाले धीरेंद्र शास्त्री के बिहार दौरे को लेकर राज्य की राजनीति गर्मा गई है. तेज प्रताप यादव के बाद अब बिहार के शिक्षा मंत्री प्रोफेसर चंद्रशेखर ने भी उनके कार्यक्रम का विरोध किया है. उन्होंने कहा है कि बाबा को यहां गंदा काम करने नहीं दिया जाएगा. बाबा बागेश्वर पर निशाना साधते हुए प्रोफेसर चंद्रशेखर ने कहा, ‘अगर बाबा बागेश्वर यहां गंदा काम करने आएंगे तो बिहार उन्हें इसकी इजाजत नहीं देगा.’ उन्होंने कहा कि नफरत फैलाने के मामले में तो आडवाणी को भी यहां जेल जाना पड़ा था.

इसके अलावा शिक्षा मंत्री प्रोफेसर चंद्रशेखर ने कहा कि बाबा के चमत्कार की हवा तो मशहूर माइंड रीडर सुहानी शाह निकाल चुकी हैं. उनका सारा तिलस्म झूठ का कबाड़ है.बता दें, मध्य प्रदेश के बागेश्वर धाम पीठाधीश्वर धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री 13 मई से बिहार दौरे पर होंगे. पटना के नौबतपुर में धीरेंद्र शास्त्री का दरबार लगना है और इसके लिए तैयारियां शुरू भी हो चुकी हैं. लेकिन आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और बिहार सरकार के मंत्री तेज प्रताप यादव बाबा बागेश्वर रास्ता रोकने के लिए पूरी तैयारी में जुटे हुए हैं.

बाबा बागेश्वर के लिए गांधी मैदान छोटा पड़ गया
धीरेंद्र शास्त्री के कार्यक्रम का आयोजन पटना के नौबतपुर में किया जाएगा. बताया जा रहा है कि बाबा के कार्यक्रम के लिए गांधी मैदान छोटा पड़ गया है. बिहार से ही नहीं उत्तर प्रदेश और झारखंड से भी भक्त बाबा के दर्शन के लिए आएंगे.

चार से पांच महीने में शिक्षकों की बहाली हो जाएगी
इसके अलावा शिक्षा मंत्री प्रोफेसर चंद्रशेखर कहा कि बिहार में शिक्षा व्यवस्था को पूरी तरह दुरुस्त कर दिया जाएगा. चार से पांच महीने में उच्चतर और माध्यमिक स्कूलों में शिक्षकों की बहाली हो जाएगी. साथ ही विशेष शिक्षक, लाइब्रेरी और कंप्यूटर भी लगा दिए जाएंगे. बेरोजगारों के तकलीफ में सरकार शामिल होना चाह रही है. अब लाखों लोगों को नौकरियां दी जाएंगी.

About bheldn

Check Also

असम की जेल में कैद खालिस्तानी अमृतपाल सिंह लड़ेगा लोकसभा चुनाव, जानें पंजाब की किस सीट से भरेगा पर्चा

चंडीगढ़ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत असम की जेल में बंद कट्टरपंथी सिख उपदेशक अमृतपाल …