ISKCON के साधु पर लगा यौन उत्पीड़न का आरोप, पीड़ित बोला- चैंबर में बुलाकर किया गंदा काम

नदिया,

पश्चिम बंगाल के नदिया जिले के नवद्वीप स्थित इस्कॉन मंदिर मुख्यालय में मुख्य समन्वयक के पद पर तैनात व्यक्ति पर मंदिर के गार्ड ने यौन उत्पीड़न करने के आरोप में केस दर्ज कराया है. जिस पर आरोप लगा है वह केस दर्ज होने के बाद से फरार है. नवद्वीप थाना पुलिस उसकी तलाश में जुटी हुई है. वहीं, मामला सामने के बाद आरोपी को इस्कॉन मंदिर के सभी पदों से हटा दिया गया है. पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है.

जानकारी के मुताबिक, इस्कॉन के एक साधु पर यौन शोषण का आरोप लगा है. आरोपी नवद्वीप के मायापुर स्थित इस्कॉन मंदिर मुख्यालय में चीफ कोऑर्डिनेटर था. आरोपी साधु की पहचान जगदर्ति दास उर्फ जयंत कुमार साहा के रूप में हुई है. नदिया के रहने वाले 29 साल के शिकायतकर्ता का कहना है कि वह पिछले 6 वर्षों से इस्कॉन से जुड़ा हुआ है और मायापुर स्थित इस्कॉन मंदिर मुख्यालय में सुरक्षा गार्ड की नौकरी करता है.

उत्पीड़न किया और धमकी भी दी
पीड़िता का आरोप है कि 16 जनवरी 2023 की आधी रात को जगदर्ति दास ने उसे अपने निजी कक्ष में बुलाया और उसका यौन उत्पीड़न किया. विरोध करने पर जगदर्ति दास ने उसे बुरी तरह से पीटा भी और धमकी दी कि अगर यह बात मैंने किसी को बताई तो मेरी नौकरी चली जाएगी.

चार और लोगों के साथ भी किया गंदा काम
पीड़ित सुरक्षा गार्ड ने कहा कि इस घटना के बाद से मैं लंबे समय तक मानसिक परेशान रहा. इसलिए मैंने यह बात किसी को नहीं बताई. मुझे नौकरी से निकाले जाने का डर था. एक दिन हिम्मत करने मैंने अपने साथ हुए गलत काम के बारे में अपने कुछ सहयोगियों को बताई. तब पता चला कि जगदर्ति दास चार और लोगों के साथ ऐसा कर चुका है. वह भी इस्कॉन में काम करते थे. पीड़ित के मुताबिक उन लोगों ने भी कहा कि जगदर्ति दास उन्हें गलत तरीके से छूता था.

केस दर्ज, सभी पदों से हटाया गया आरोपी साधु
नवद्वीप थाने में आरोपी साधु जगदर्ति दास के खिलाफ आईपीसी की धारा 342, 377, 506 के तहत 2 मई को मामला दर्ज किया गया था. फिलहाल जगदर्ति दास फरार है. उसकी तलाश की जा रही है. वही, मामला सामने आन के बाद मायापुर स्कॉन के सह-निदेशकों ने आंतरिक जांच समिति का गठन किया था. जांच के बाद इस्कॉन प्राधिकरण ने आरोपी साधु जगदर्ति दास को मायापुर इस्कॉन के मैनेजमेंट के सभी पदों से हटा दिया है. अयोग्य घोषित कर दिया गया है।

 

About bheldn

Check Also

शिवसेना BJP के खूंटे से बंधी हुई नहीं है, एकनाथ शिंदे गुट के सांसद कीर्तिकर क्यों हैं नाराज

मुंबई: मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की बीजेपी परस्ती से उनके सांसद नाराज हैं। बीजेपी के साथ …