‘द केरल स्टोरी’ विवाद पर TMC ने कहा- BBC की डॉक्यूमेंट्री पर क्यों लगाया बैन

कोलकाता,

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने फिल्म ‘द केरल स्टोरी’ को बैन करने का फैसला किया है. उन्होंने चीफ सेक्रेटरी को आदेश दिया है कि राज्य के सिनेमा घरों से फिल्म को हटाया जाए. ये फैसला बंगाल में शांति बनाए रखने के लिए लिया गया है.

टीएमसी प्रवक्ता कुणाल घोष ने कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार ने ‘द केरल स्टोरी’ पर प्रतिबंध लगाने का सही निर्णय लिया है. इस फिल्म का मकसद ध्रुवीकरण करके एक समुदाय को भड़काना है. यह फिल्म झूठ पर आधारित है. कुणाल ने कहा कि जो लोग दिल्ली में बैठकर हमें लेक्चर देते हैं, वही ‘गोली मारो सालों को’ जैसे नारे लगाते हैं. पूछना चाहता हूं कि आपने पीएम मोदी पर बनी बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री पर प्रतिबंध क्यों लगाया.

ये लोग बंगाल फाइल्स की तैयारी कर रहे हैं- ममता बनर्जी
इससे पहले राज्य की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बीजेपी पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी की सरकार मनगढ़ंत और गलत कहानी वाली बंगाल फाइल्स बनाने के लिए फिल्मकारों को पैसे दे रही है. कुछ दिनों पहले इनके भेजे एक्टर्स बंगाल आए थे और वो मनगढ़ंत व गलत कहानी वाली फिल्म बंगाल फाइल्स की तैयारी कर रहे हैं.

उन्हें ये करना का हक किसने दिया- ममता बनर्जी
ममता ने कहा कि ये लोग केरल और वहां के लोगों की मानहानि कर रहे हैं. आए दिन ये लोग बंगाल की भी मानिहानि करते हैं. उन्होंने सवाल उठाया, “क्यों बीजेपी सामुदायिक दिक्कतें पैदा कर रही है? ये सब करना क्या किसी राजनीतिक पार्टी का काम है? उन्हें ये करना का हक किसने दिया”.

तो हम कानूनी कदम उठाएंगे- प्रोड्यूसर विपुल शाह
ममता बनर्जी सरकार के इस फैसले के बाद ‘द केरल स्टोरी’ के प्रोड्यूसर विपुल शाह और डायरेक्टर सुदीप्तो सेन का जवाब भी आया है. विपुल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि अगर राज्य सरकार हमारी बात नहीं सुनती है तो हम कानूनी कदम उठाएंगे.

 

About bheldn

Check Also

सात फेरों की गांठ खोलकर दुल्‍हन बोली- शादी नहीं करनी, वजह सुनकर सब रह गए हैरान

कानपुर: कानपुर में बाराती उस समय हैरान रह गए जब दुल्‍हन ने चौथा फेरा लेने …