हरियाणा पुलिस भर्ती में हेराफेरी, कोचिंग सेंटर संचालक और सरकारी कर्मचारी समेत 32 गिरफ्तार

महेंद्रगढ़,

हरियाणा पुलिस भर्ती में हुई हेराफेरी को लेकर जिला महेंद्रगढ़ पुलिस के हाथ बड़ी कामयाबी लगी है. इस मामले में नारनौल पुलिस अधीक्षक विक्रांत भूषण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए जानकारी दी. मामले में 32 लोगों को गिरफ्तार किया है. इनमें से हरियाणा के अलग-अलग जिलों से 19, राजस्थान से 9, बिहार से 3 और उत्तर प्रदेश से 1 आरोपी को गिरफ्तार किया गया है.

जानकारी के मुताबिक, राजस्थान की एक एकेडमी के द्वारा पुलिस में भर्ती कराने के बदले में युवाओं से मोटा पैसा वसूला जाता था. इसके बाद एकेडमी संचालक पेपर हैकर से प्रत्येक बच्चे के 2-3 लाख रुपये के हिसाब से सैटिंग करते थे. फिर पेपर करवाने वाली कंपनी से तालमेल कर लैब में अपने वर्कर की पेपर के समय ड्यूटी लगाते थे और बच्चों के पेपर करवाते थे.

पुलिस ने 13 लाख 50 हजार रुपये, 8 तोला सोना किया बरामद
इस मामले में पुलिस ने कार्रवाई करते हुए अब तक 32 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. इनमें एकेडमियों के संचालक भी शामिल हैं. गिरफ्तार आरोपियों से पुलिस ने 13 लाख 50 हजार रुपये, 8 तोला सोना और 2 गाड़ियां बरामद की हैं. इस मामले में पुलिस ने 9 बैंक खाते भी सीज किए हैं. बहरहाल, पुलिस के हाथ तो कामयाबी लगी, लेकिन अभी कुछ गिरफ्तारियां और होनी बाकी हैं.

गारंटी से भर्ती करवाने के नाम से बैच चलाया जाता था- SP
मामले में पुलिस अधीक्षक विक्रांत भूषण ने बताया कि आरोपियों द्वारा एकेडमी में गारंटी से भर्ती करवाने के नाम से बैच चलाया जाता था. इस बेच के लिए अलग से पैसे निर्धारित किए जाते थे. एकेडमी संचालक 12 से 15 लाख रुपए 2 से 3 किश्तों में लेते थे.

इस बैच में एडमिशन लेने वाले बच्चों के परिवार वालों को भर्ती करवाने का पूर्ण आश्वासन दिया जाता था. एकेडमी संचालक पेपर हैकर और पेपर करवाने वाली कंपनी से संपर्क रखता था. फिर पेपर हैक करके और पेपर में छात्र की जगह सॉल्वर को बैठाकर फर्जी पेपर करवाया जाता था.

 

About bheldn

Check Also

जामताड़ा: जान बचाने के लिए यात्री एक ट्रेन से कूदे, दूसरी की चपेट में आए, हादसे में 12 की मौत

जामताड़ा, झारखंड के जामताड़ा से बड़ी खबर आ रही है. जामताड़ा और विद्यासागर स्टेशन के …