पहले तकरार…अब इकरार, कर्नाटक जीत के बाद कांग्रेस को लेकर बदला ममता का रुख, विपक्षी एकता पर बड़ा बयान

नई दिल्ली,

कर्नाटक में जीत के बाद अब कांग्रेस पार्टी को ममता बनर्जी ने समर्थन देने की बात कही है. ममता बनर्जी का कहना है कि TMC उन राज्यों में कांग्रेस का समर्थन करने को तैयार है, जहां वे मजबूत हैं. इसके अलावा ममता ने कहा कि कांग्रेस को बंगाल जैसे राज्यों में TMC की मदद करनी होगी.

बता दें कि TMC प्रमुख ममता बनर्जी 2024 के आम चुनाव का फॉर्मूला तय करने के लिए सभी विपक्षी दलों के बीच बातचीत शुरू करना चाहती हैं. राज्य सचिवालय नबन्ना में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा, ‘मैं कोई जादूगर नहीं हूं, न ही ज्योतिषी. मैं नहीं कह सकती कि भविष्य में क्या होगा. लेकिन मैं आपको एक बात बता सकती हूं, जहां क्षेत्रीय पार्टी मजबूत है वहां बीजेपी नहीं लड़ सकती है और जहां लोग निराश हैं वहां भी. कर्नाटक में डाला गया वोट बीजेपी सरकार के खिलाफ एक जनादेश है.’

‘क्षेत्रीय पार्टियों को दें मौका’
उन्होंने आगे कहा, देश की अर्थव्यवस्था भी बर्बाद हो गई है, लोकतांत्रिक अधिकार को बुलडोजर से कुचला जा रहा है और यहां तक ​​कि पहलवानों की नहीं सुनी जा रही है. इसलिए इस स्थिति में क्षेत्र में जो भी मजबूत है, उन्हें मिलकर लड़ना चाहिए. मान लीजिए बंगाल में मजबूत हैं तो हम बंगाल में लड़ें. दिल्ली में कांग्रेस को लड़ना चाहिए. बिहार में नीतीश जी और तेजस्वी साथ हैं और कांग्रेस भी, ये सब तय कर सकते हैं… और ऐसे ही दूसरे राज्यों में भी मिलकर काम करना होगा.

कांग्रेस को भी देना होगा दूसरी पार्टियों को समर्थन…
ममता बनर्जी ने कहा कि जिन सीटों पर कांग्रेस पार्टी मजबूत है, वहां वो भाजपा से लड़ सकती है. उन्होंने कहा, ‘मजबूत पार्टी को प्राथमिकता दी जानी चाहिए और जहां भी कांग्रेस पार्टी मजबूत है उन्हें लड़ने दो, हम समर्थन देंगे. लेकिन इसके लिए कांग्रेस को भी दूसरी पार्टियों का समर्थन करना होगा.’

200 सीटों पर कांग्रेस मजबूत
ममता बनर्जी ने अपना प्लान बताते हुए आगे कहा, ‘हमने गणना की है कि कांग्रेस 200 सीटों पर मजबूत है. ऐसे में अगर कांग्रेस कुछ अच्छा पाना चाहती है तो उन्हें कुछ क्षेत्रों में त्याग भी करना होगा. मान लीजिए यूपी में अखिलेश को प्राथमिकता देनी है तो बैठकर फैसला करें.’ ममता ने कहा, ‘मैं यह नहीं कह रही हूं कि कांग्रेस को वहां नहीं लड़ना चाहिए. लेकिन बात करनी जरूरी है.’

About bheldn

Check Also

विजयन के टारगेट करने पर कांग्रेस ने साफ किया CAA पर स्टैंड, चिदंबरम ने बताया सरकार बनने पर क्या करेंगे

तिरुवनंतपुरम कांग्रेस की अगुवाई वाली I.N.D.I.A अलायंस अगर सत्ता में आया तो पार्टी सीएए को …