कांग्रेस विधायक दल के नेता चुने गए सिद्धारमैया, 20 मई को लेंगे कर्नाटक CM पद की शपथ

नई दिल्ली,

कांग्रेस की तमाम मुलाकातों के बाद गुरुवार को तय हो गया कि कर्नाटक की कमान सिद्धारमैया ही थामेंगे. वहीं डीके शिवकुमार डिप्टी सीएम बनने को मान गए हैं. हालांकि लोकसभा तक कर्नाटक कांग्रेस के मुखिया भी डीके ही रहेंगे. दिल्ली में मसला सुलझने के साथ ही शाम तक दोनों नेता बेंगलुरु वापस लौट गए. यहां विधायक दल के नेताओं की बैठक हुई, इसमें सभी कांग्रेस विधायकों ने औपचारिक रूप से सिद्धारमैया को अपना नेता और कर्नाटक का मुख्यमंत्री चुन लिया.

इंदिरा गांधी भवन में हुई कांग्रेस के नवनिर्वाचित विधायकों, एमएलसी और सांसदों की बैठक में कांग्रेस के महासचिव रणदीप सिंह सुरजेवाला और दो अन्य केंद्रीय पर्यवेक्षकों (महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री सुशील कुमार शिंदे और कांग्रेस महासचिव जितेंद्र) शामिल हुए.

सुरजेवाला ने ट्वीट कर बताया कि डीके शिवकुमार ने कर्नाटक में कांग्रेस विधायक दल के नए नेता के रूप में सिद्धारमैया को चुनने के लिए एक प्रस्ताव पेश किया. कांग्रेस पार्टी के सभी सदस्यों ने सर्वसम्मति से इसका समर्थन किया. 20 मई को दोपहर 12.30 बजे सिद्धारमैया और डीके शिवकुमार मनोनीत मंत्रियों के साथ शपथ लेंगे.

राज्यपाल ने शपथ लेने के लिए आमंत्रित किया
कर्नाटक के राज्यपाल थावरचंद गहलोत ने मनोनीत मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और नामित उपमुख्यमंत्री डीके शिवकुमार को टीम के सदस्यों के साथ शपथ लेने के लिए आमंत्रित किया है. शपथ समारोह बेंगलुरु के कांटेरावा स्टेडियम में होगा.

100 घंटे चले मंथन के बाद सिद्धारमैया के नाम पर मुहर
कर्नाटक से दिल्ली तक 100 घंटे चले मंथन और ताबड़तोड़ बैठकों के दौर के बाद सीएम पद के लिए सिद्धारमैया के नाम पर मुहर लगी. बताया जा रहा है कि सोनिया गांधी के हस्तक्षेप के बाद कर्नाटक का पूरा सियासी संकट सुलझ पाया. अब 20 मई को कर्नाटक में नई सरकार का गठन होगा. दरअसल, कांग्रेस ने कर्नाटक विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित नहीं किया था. हालांकि, समय समय पर प्रदेश अध्यक्ष डीके शिवकुमार और सिद्धारमैया सीएम पद के लिए अपनी अपनी दावेदारी पेश करते रहे. राज्य में जीत मिलने के बाद सिद्धारमैया और डीके शिवकुमार ने सीएम बनने के लिए कोशिशें तेज कर दी थीं. जहां कांग्रेस आलाकमान सिद्धारमैया को सीएम और शिवकुमार डिप्टी सीएम बनाने के पक्ष में था. हालांकि, शिवकुमार सीएम पद से नीचे कुछ भी लेने को तैयार नहीं थे. बड़ी जद्दोजहद के बाद शिवकुमार तैयार हुए हैं.

इन नेताओं को दिया गया निमंत्रण
-बिहार के सीएम नीतीश कुमार
-बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव
-तमिलनाडु के सीएम एमके स्टालिन
-झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन
-पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती
-सीपीआई के महासचिव डी राजा
-सीपीआई (मार्क्सवादी) के महासचिव सीताराम येचुरी
-बंगाल की सीएम ममता बनर्जी
-एनसीपी प्रमुख शरद पवार
-महाराष्ट्र के पूर्व सीएम उद्धव ठाकरे
-अभिनेता और एमएनएम प्रमुख कमल हासन

चुनावों में कांग्रेस ने दर्ज की ऐतिहासिक जीत
कांग्रेस ने 10 मई को कर्नाटक विधानसभा चुनाव में जबरदस्त जीत हासिल की है. पार्टी को 224 सीटों में से 135 सीटों पर जीत मिली है. राज्य से भाजपा को सत्ता से बेदखल कर दिया है. बीजेपी 66 सीटों के साथ दूसरे नंबर पर आई. जबकि जेडीएस को सिर्फ 19 सीटें मिलीं. चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद से कांग्रेस में राज्य के अगले मुख्यमंत्री को लेकर कवायद तेज हो गई थी.

 

About bheldn

Check Also

असम की जेल में कैद खालिस्तानी अमृतपाल सिंह लड़ेगा लोकसभा चुनाव, जानें पंजाब की किस सीट से भरेगा पर्चा

चंडीगढ़ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत असम की जेल में बंद कट्टरपंथी सिख उपदेशक अमृतपाल …