उद्घाटन के दिन नई संसद के सामने महिला महापंचायत करेंगे पहलवान

नई दिल्ली,

राजधानी दिल्ली में जंतर-मंतर पर पहलवानों का धरना अभी भी जारी है. 23 मई को इस धरने को एक महीने पूरे हो जाएंगे. ऐसे में इस मौके पर पहलवान इंडिया गेट तक कैंडल मार्च निकालेंगे. इसी के साथ, जिस दिन नई संसद का उद्घाटन होगा, पहलवान उसी दिन संसद के बाहर महिला महापंचायत आयोजित करेंगे. इस बारे में महम में आयोजित खाप पंचायत में ये फैसला लिया गया है.

महम में आयोजित हुई खाप पंचायत
बता दें कि पहलवानों और WFI व इसके अध्यक्ष रहे बृजभूषण शरण सिंह के बीच जनवरी 2023 से रार जारी है. इसके बाद बीते अप्रैल में पहलवान खुलकर WFI चीफ के विरोध में आ गए और यौन शोषण का आरोप लगाया था. यह मामला सुप्रीम कोर्ट तक गया था, इसके बाद बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ FIR दर्ज करने के आदेश दिए गए थे. इसके बाद भी पहलवान जंतर-मंतर पर जमे हुए हैं और उनकी मांग WFI अध्यक्ष को जेल भेजने की है. पहलवान डब्ल्यूएफआई अध्यक्ष रहे बृजभूषण शरण सिंह को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं. बृजभूषण शरण सिंह पर एक नाबालिग समेत सात महिला पहलवानों ने यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है.

धरने को खाप पंचायत का मिला है समर्थन
दिल्ली पुलिस ने सुप्रीम कोर्ट के दखल पर बृजभूषण के खिलाफ पॉक्सो एक्ट और अन्य संबंधित धाराओं में केस दर्ज कर लिया है. आरोप लगाने वाली महिला पहलवानों के धारा 164 के तहत बयान दर्ज किए जा चुके हैं. बृजभूषण से भी दिल्ली पुलिस ने पूछताछ की थी. पहलवान बृजभूषण को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं. पहलवानों के धरने को किसानों और खाप का भी समर्थन मिला हुआ है. इसी के तहत रविवार को हरियाणा के महम में एक खाप पंचायत आयोजित की गई.

23 मई को पूरा होगा पहलवानों के धरने का एक महीना
पंचायत में फैसला लिया गया है कि, पहलवान 28 मई को नई संसद के बाहर महिला महापंचायत आयोजित करेंगे. पंचायत के दौरान यह भी निर्णय लिया गया कि जंतर-मंतर पर बृजभूषण सरन सिंह की गिरफ्तारी के खिलाफ पहलवानों के मौजूदा धरने के 1 महीने के अवसर पर 23 मई को इंडिया गेट तक कैंडल मार्च निकाला जाए. असल में आने वाली 23 मई पहलवानों के धरने को 1 महीने पूरे हो जाएंगे.

इससे पहले, दिल्ली के जंतर-मंतर पर 7 मई को भी खाप पंचायत हुई थी जिसमें सरकार को बृजभूषण की गिरफ्तारी के लिए 15 दिन का अल्टीमेटम दिया गया था. खाप पंचायत में सरकार को 21 मई तक पहलवानों के मुद्दे पर एक्शन लेने का अल्टीमेटम देते हुए कहा था कि कोई कार्रवाई नहीं हुई तो इसके बाद बड़ा आंदोलन किया जाएगा.

विनेश बोलीं- हमारे बुजुर्ग लेंगे निर्णय
पहलवान विनेश फोगाट ने कहा है कि हमारे धरने के समर्थन में जितने लोग आ रहे हैं, सभी खाप पंचायत में जाएंगे. उन्होंने आगे की रणनीति को लेकर साफ कहा कि हमारे बड़े-बुजुर्ग निर्णय लेंगे जो बहुत बड़ा हो सकता है. विनेश ने कहा कि हम खिलाड़ियों का तो नुकसान हो ही रहा है, खाप में बड़ा निर्णय हुआ तो किसान आंदोलन की ही तरह देश का नुकसान हो सकता है. इंडिया गेट पर कैंडल मार्च निकालेंगे पहलवान पहलवान 23 अप्रैल से जंतर-मंतर पर धरना दे रहे हैं.

पॉक्सो में दर्ज मामला, गिरफ्तारी अब तक नहीं
23 मई को धरने के एक महीने पूरे होने पर पहलवानों ने इंडिया गेट पर कैंडल मार्च निकालने का ऐलान किया है. बजरंग पूनिया ने आम नागरिकों से भी शांतिपूर्ण तरीके से निकाले जाने वाले कैंडल मार्च में शामिल होने का आह्वान करते हुए कहा कि शायद ये देश का पहला ऐसा मामला होगा जिसमें पॉक्सो के तहत केस दर्ज होने के बावजूद गिरफ्तारी नहीं हो पा रही.

नार्को टेस्ट पर क्या बोले बृजभूषण शरण सिंह
विवाद के बीच WFI अध्यक्ष रहे बृजभूषण शरण सिंह का बड़ा बयान सामने आया है. बृजभूषण शरण सिंह ने अपने फेसबुक अकाउंट पर कहा कि ‘मैं अपना नारको टेस्ट, पॉलिग्राफी टेस्ट या लाइ डिटेक्टर करवाने के लिये तैयार हूं, लेकिन मेरी शर्त है मेरे साथ विनेश फोगाट और बजरंग पुनिया का भी ये टेस्ट होने चाहिए. अगर दोनों पहलवान अपना टेस्ट करवाने के लिये तैयार हैं तो प्रेस बुलाकर घोषणा करें और मैं उनको वचन देता हूं कि मैं भी इसके लिये तैयार हूं. मैं आज भी अपनी बात पर कायम हूं और हमेशा कायम रहने का देशवासियों को वादा करता हूं. रघुकुल रीती सदा चली आयी, प्राण जाये पर वचन न जाई… जयश्रीराम.’

 

About bheldn

Check Also

तीसरे नंबर पर खेलने का मौका मिला तो स्टोइनिस ने मारा चौका, चेन्नई के खिलाफ ठोका शतक

चेन्नई: ऑस्ट्रेलिया के अनुभवी ऑलारउंडर मार्कस स्टोइनिस आईपीएल 2024 में लखनऊ सुपर जायंट्स के लिए …