योगी सरकार का बड़ा फैसला, अब राशन की दुकानों पर मिलेंगी ये 35 चीजें

लखनऊ,

अब यूपी में राशन की दुकानों पर दूध, ब्रेड, मसाले, ब्यूटी प्रोडक्ट, छाते और टॉर्च जैसी 35 वस्तुएं मिलेंगी. इसमें गुड़, घी, नमकीन, पैक सूखे मेवे, पैक्ड मिठाई, दूध पाउडर, बच्चों के कपड़े (होजरी), राजमा, सोयाबीन, क्रीम, धूपबत्ती, कंघी, शीशा, झाड़ू, पोछा, ताला, रेनकोट भी होगा. साथ ही वॉल हैंगर, डिटर्जेंट पाउडर, बर्तन धोने वाला साबुन, इलेक्ट्रॉनिक सामान, दीवार घड़ी, माचिस, नायलॉन और जूट की रस्सी, प्लास्टिक का पाइप (पानी वाला), प्लास्टिक की बाल्टी, मग और छन्नी की बिक्री भी होगी. योगी सरकार ने इस बाबत बुधवार को नोटिफिकेशन जारी किया था.

इसके साथ हैंडवॉश, बाथरूम क्लीनर और बेबी केयर उत्पाद जैसे डायपर, बेबी साबुन, मसाज तेल, वाइप्स और बॉडी लोशन भी मिलेंगे. इससे आम आदमी को अब एक ही दुकान पर राशन के साथ ये तमाम चीजें मिल सकेंगी. शुरुआती तौर पर सरकार की मंशा राशन की दुकानों की आय बढ़ाने की है. साथ ही आने वाले समय में नई मॉडल शॉप्स बनाई जाएंगी, जिसमें राशन के साथ रोजमर्रा का सामान और अन्य काफी काम भी हो सकेंगे.

ग्राम सभा की जमीन पर बनेंगी दुकानें
इसके लिए अन्नपूर्णा मॉडल दुकानों का निर्माण ग्राम सचिवालय के नजदीक ग्राम सभा की जमीन पर किया जाएगा. इससे लोगों को दैनिक आवश्यकता की वस्तुएं व अन्य सेवाएं निकटतम स्थान पर एक जगह ही मिल सकेंगी. पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर बरेली मंडल में 52 अन्नपूर्णा उचित दर की दुकानें निर्माणाधीन हैं. जल्द इसे सभी जिलों में लागू किया जाएगा.

अन्नपूर्णा मॉडल दुकानों में होगा खाद्यान्न वितरण
खाद्य एवं रसद विभाग द्वारा राशन की दुकानों के अपग्रेडेशन के संबंध में पिछले दिनों सीएम योगी के सामने प्रेजेंटेशन किया गया था, जिसके बाद इसे लागू किया गया है. सीएम योगी के निर्देश पर अन्नपूर्णा मॉडल दुकानों में राशन कार्ड धारकों को निर्धारित तारीख में खाद्यान्न का वितरण किया जाएगा. इसके लिए इलेक्ट्रॉनिक तराजू एवं ई-पॉस मशीन का उपयोग किया जाएगा.

गांव के लोगों की आवश्यकताओं के अनुरूप एक स्थान पर कई सुविधाएं उपलब्ध हो जाने से समय की बचत हो सकेगी. साथ ही अन्नपूर्णा उचित दर की दुकान और जनसुविधा केंद्र में आय, जाति, जन्म, निवास प्रमाण पत्र, आधार, पेंशन व अन्य सेवाओं की सुविधा उपलब्ध होगी.

सप्ताह में एक दिन सुविधाओं का जायजा लेंगे अधिकारी
साथ ही, यहां पर जनरल स्टोर के माध्यम से जनसामान्य को रोजमर्रा की आवश्यकता के सामान उपलब्ध कराए जाने हैं. अधिकारी नियमित रूप से सप्ताह में एक दिन ग्राम पंचायतों का दौरा कर इन सुविधाओं का जायजा लेंगे. विभाग ने पूरे प्रदेश में अन्नपूर्णा उचित दर की दुकानें एवं जनसुविधा केंद्र एकीकृत व समरूपता से चलाने की तैयारी की है.

 

About bheldn

Check Also

नड्डा घूमते हैं नोटों भरा बैग लेकर, महिलाएं अब कैसे खरीदें सोना? तेजस्वी का पीएम मोदी-नड्डा पर डबल अटैक

पटना: राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी …