वित्तीय वर्ष 2022-23 में बीएचईएल महारत्न कंपनी ने कमाया 450 करोड़ का मुनाफा

– वहीं टर्नओवर 22,136 हजार करोड़ से ज्यादा

भोपाल।

भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड (भेल) महारत्न कंपनी ने वित्तीय वर्ष 2022-23 मेंं 22,136 करोड़ के टर्न ओवर और 450 करोड़ के कर पूर्व लाभ (रू. 448 करोड़ कर पश्चात लाभ) को एक महत्वपूर्ण उपलब्धि हासिल की है। कंपनी की सबसे बड़ी यूनिट तिरूचिरापल्ली ने 3402 करोड़ का टर्नओवर पूरा कर अपने आप को नंबर वन बनाया है। इस यूनिट में 68 करोड़ का मुनाफा भी कमाया। वहीं भोपाल यूनिट ने 2968 करोड़ के टर्न ओवर और 68.5 करोड़ के कर पूर्व लाभ प्राप्त किया है।

भेल के ईडी विनय निगम ने इस संंबंध में शनिवार को सांस्कृतिक भवन में आयोजित एक भव्य कार्यक्रम में कर्मचारियों को वित्त वर्ष 2022-23 में भोपाल यूनिट की उपलब्धियों के लिए हार्दिक बधाई दी और कहा कि बीएचईएल, भोपाल नई ऊंचाई स्थापित करने के लिए कृत संकल्प है। उन्होंने कहा कि बीएचईएल के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक डॉ. नलिन सिंघल तथा बीएचईएल बोर्ड के वरिष्ठ अधिकारियों के कुशल नेतृत्व के कारण इस कठिन प्रतिस्पर्धात्मक वातावरण में बीएचईएल की यह उपलब्धि निश्चित तौर पर सभी कर्मचारियों के लिए गौरव का विषय है ।

भोपाल यूनिट के कार्य संस्कृति और यहां के औद्योगिक सौहार्द की प्रशंसा करते हुए कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं कि वित्त वर्ष 2023-24 के निर्धारित लक्ष्य को यह यूनिट सहजतापूर्वक प्राप्त करेगा ।
कार्यक्रम में अविनाश चन्द्रा, महाप्रबंधक ने सभी कर्मचारियों एवं मुख्य अतिथि का स्वागत करते हुए उन्हें सौहार्दपूर्ण वातावरण बनाए रखने और उत्पादन में उनकी भागीदारी के लिए धन्यवाद दिया। अपर महाप्रबंधक आर के अग्रवाल ने कार्य निष्पादन पर प्रस्तुतीकरण किया ।

इस अवसर पर अपर महाप्रबंधक हीरालाल भारानी ने कारखाने में सुरक्षा के नियमों के पालन के लिए सभी कर्मचारियों को बधाई दी । सुरक्षा विभाग द्वारा कारखाने में विभिन्न ब्लॉकों में सुरक्षा के नियमों के अनुपालन तथा उत्कृष्ट सुरक्षा कार्य संस्कृति के विकास के लिए एससीआर विभाग एवं सीआईएम विभाग को चलित सुरक्षा शील्ड भी प्रदान किए गए । यह शील्ड क्रमश प्रदीप कुमार उपाध्याय, महाप्रबंधक तथा मोतीसिंह रावत, महाप्रबंधक ने ग्रहण किए ।

किस यूनिट ने कितना टर्नओवर किया
यूनिट              टर्न ओवर                     मुनाफा
त्रिची               3402 करोड़               68 करोड़
भोपाल            2968 करोड़               68.05 करोड़
रानीपेट           1800 करोड़               40 करोड़
झांसी              1113 करोड़                 28 करोड़
बेंगलुरू            1130 करोड़                70 करोड़
हैदराबाद          1714 करोड़                119 करोड़
हरिद्वार          1696 करोड़               आंकड़े उपलब्ध नहीं।
नोट: यह सभी आंकड़े अनुमानित है।

About bheldn

Check Also

भेल में एक शाम श्रमिकों के नाम होगा कार्यक्रम, श्रमिक होंगे सम्मानित

– ऐबू कार्यालय में कार्यक्रम की तैयारियों को लेकर हुई बैठक भोपाल भेल की मान्यता …