इस्लामोफोबिक पाकिस्तान में ये कैसी हरकत? बाइबिल पर मारी चप्पलें, ईसाइयों के खिलाफ उगला जहर

इस्लामाबाद

दुनियाभर में इस्लामोफोबिया का रट लगाने वाले पाकिस्तान में दूसरे धर्म सुरक्षित नहीं हैं। पाकिस्तान दुनिया के उन कट्टर इस्लामी देशों में से एक है, जहां धार्मिक अल्पसंख्यकों को सबसे ज्यादा प्रताड़ित किया जाता है। इसका ताजा उदाहरण हाल में ही पाकिस्तान के रावलपिंडी में देखने को मिला है। रावलपिंडी में एक मुस्लिम व्यक्ति ने ईसाई धर्म की पवित्र पुस्तक बाइबिल का अपमान किया और उस पर चप्पलें भी मारी। उस व्यक्ति ने इस घटना का बाकायदा वीडियो भी बनाया। जब यह वीडियो वायरल हुआ तो ईसाई समुदाय के दबाव डालने पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार किया। पाकिस्तान में अभी चंद दिनों पहले ही ईसाइयों के खिलाफ सामूहिक हिंसा हुई थी, जिसमें कट्टरपंथियों ने दर्जनों चर्चों को तोड़ दिया और अल्पसंख्यकों के घरों को निशाना बनाया था।

रावलपिंडी पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार
इस वीडियो के वायरल होने के बाद रावलपिंडी पुलिस ने कहा कि वे इस संबंध में तत्काल कार्रवाई कर रहे हैं, आरोपी का पता लगा लिया है और उसे गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी के खिलाफ गंभीर धाराओं में मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने दावा किया कि वे मामले की पूरी जांच कर आकोरी को सजा दिलवाएंगे। हालांकि, पाकिस्तान पुलिस धार्मिक हिंसा के मामलों में अल्पसंख्यक समुदाय को सुरक्षा देने के मामले में फिसड्डी साबित हुई है। हिंदू, ईसाई, सिख और दूसरे अल्पसंख्यक समुदायों का आरोप है कि पुलिस न तो समय पर प्रतिक्रिया देती है और ना ही मामले की गंभीरता से जांच करती है।

अल्पसंख्यकों की सुरक्षा में फेल है पाकिस्तान सरकार
डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, इस घटना के संबंध एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। रिपोर्ट में यह भी बताया कि उस व्यक्ति पर पाकिस्तान दंड संहिता (पीपीसी) की धारा 298 लगाई गई है, जो धार्मिक भावनाओं को आहत करने और जानबूझकर किसी धर्म का अपमान करने से संबंधित है। पीएमएल-एन नेता अहसान इकबाल ने इस घटना को शर्मनाक बताया है। उन्होंने कहा कि इस्लाम जहां अपनी आस्थाओं का सम्मान करना सिखाता है, वहीं यह दूसरों की आस्थाओं का भी सम्मान करना सिखाता है। इकबाल ने यह भी कहा कि अपने नागरिकों को धार्मिक सुरक्षा प्रदान करना सरकार की जिम्मेदारी है।

About bheldn

Check Also

ब्रिटेन में चुनाव के बाद क्यों भड़की हिंसा? लीड्स शहर में आगजनी, पुलिस पर पत्थरबाजी

नई दिल्ली ब्रिटेन में हाल ही में चुनाव हुए हैं और नई सरकार सत्ता संभालने …