एक्सीडेंट, रॉड से मारपीट और हत्या… यूं सांप्रदायिक तनाव में बदली जयपुर में बाइक टक्कर की घटना

जयपुर ,

राजस्थान के जयपुर में रोडरेज में हुई हत्या ने सांप्रदायिक रंग ले लिया. इस घटना से तनाव फैल गया. पुलिस के आलाधिकारी मामले पर नजर बनाए हुए हैं. स्थिति को काबू में रखने और लॉ एंड ऑर्डर मेंटेंन करने के लिए इलाके में अतिरिक्त फोर्स की तैनाती की गई है. DGP ने आरोपियों की गिरफ्तारी के निर्देश दिए हैं. साथ ही लोगों से शांति बनाए रखने की अपील भी की है.

दरअसल, शुक्रवार को जयपुर के सुभाष चौक थाना क्षेत्र में रामगंज निवासी इकबाल की बाइक की राहुल नाम के युवक की बाइक से टक्कर हो गई थी. इसको लेकर दोनों के बीच गाली-गलौज हो गई. दोनों युवक गाली-गलौज करते हुए अपने-अपने लोगों को बुलाने लगे. वहां खड़े बुजुर्ग ने दोनों को गाली देने से मना किया.

इकबाल के पैरों और सिर पर बेरहमी से हमला
इसी बात को लेकर इकबाल की वहां खड़े लोगों से बहस हो गई. मौके पर खड़े लोगों से गाली-गलौज करने को लेकर इकबाल की मारपीट हो गई. लोगों ने इकबाल को लाठी-डंडों से पीटना शुरू कर दिया. उसके पैरों और सिर पर बेरहमी से हमला किया गया और उसे लहूलुहान कर दिया गया.

इस घटना के बाद उसे सवाई मानसिंह अस्पताल में भर्ती कराया गया. वहां इकबाल ने दम तोड़ दिया. युवक की मौत के बाद इलाके में तनाव फैल गया. इसको लेकर सुभाष चौक पर भारी पुलिस बल की तैनाती की गई. इकबाल का परिवार चाहता है कि आरोपी जल्द से जल्द पकड़ा जाए.

‘सुभाष चौक और रामगंज में स्थिति नियंत्रण में है’
पुलिस महानिदेशक (DGP) उमेश मिश्रा ने आरोपियों की गिरफ्तारी के निर्देश दिए हैं. इस मामले में करीब एक दर्जन संदिग्धों को राउंडअप किया गया है. सुभाष चौक और रामगंज में स्थिति नियंत्रण में है. किसी भी स्थिति से निपटने के लिए भारी मात्रा में एसटीएफ सहित जाप्ता तैनात किया गया है. पुलिस कमिश्नर सहित वरिष्ठ अधिकारी मौके पर हैं. ड्रोन के जरिए स्थिति पर नजर रखी जा रही है.

‘आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी’
डीजीपी ने बताया कि घटना में शामिल लोगों के खिलाफ नियमानुसार सख्त कार्रवाई होगी. इसके साथ ही उन्होंने लोगों से शांति व्यवस्था बनाए रखने की अपील भी की है. वहीं इस मामले को लेकर सुभाष चौक थाने के प्रभारी सुरेश सिंह खटीक ने बताया कि जयपुर के रामगंज निवासी अब्दुल मजीज के बेटे इकबाल (18) की बाइक की टक्कर से मौत हो गई.

‘जयसिंह पुरा खोर से घर जा रहा था इकबाल’
उन्होंने बताया कि रात करीब 10.45 बजे इकबाल बाइक पर जयसिंह पुरा खोर से घर जा रहा था. इसी दौरान गंगापोल स्थित बाजार में राहुल की बाइक से इकबाल की बाइक की टक्कर हो गई. बाइक टकराने को लेकर दोनों युवकों के बीच गाली-गलौज हुई. इसके बाद जब वहां खड़े लोगों ने गाली देने से मना किया तो इकबाल की उनसे मारपीट हो गई.

मौत की जानकारी मिलते ही जुटने लगे लोग
रिपोर्ट के मुताबिक, मारपीट की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची. इकबाल को गंभीर हालत में एसएमएस अस्पताल के ट्रॉमा में भर्ती कराया गया. यहां उसकी मौत हो गई. मारपीट में मौत की जानकारी मिलते ही उसके पक्ष के लोग जुटने लगे. माहौल बिगड़ता देख मौके पर अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया. पुलिस ने एफएसएल टीम को बुलाकर मौके से साक्ष्य जुटाए.

इकबाल के परिवार को 50 लाख रुपये की मदद
पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए देर रात छापेमारी की. पुलिस ने हत्या में शामिल एक दर्जन संदिग्धों को राउंडअप किया है. संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ करने के साथ ही इसमें शामिल लोगों के बारे में जानकारी जुटाई जा रही है. जयपुर प्रशासन ने इकबाल के परिवार को 50 लाख रुपये का मुआवजा, नौकरी और एक डेयरी बूथ देने की घोषणा की है.

About bheldn

Check Also

स्लॉटर हाउस में अमानवीय स्थिति, दबिश देकर पुलिस ने 57 नाबालिग बच्चों का किया रेस्क्यू

गाजियाबाद, उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद की क्राइम ब्रांच पुलिस और थाना मसूरी पुलिस की संयुक्त …