हरदा : सुतली बमों से भरे मिले दर्जनों ड्रम, पानी में डुबोकर किए गए नष्ट; मलबा हटाने का काम जारी

हरदा ,

मध्यप्रदेश के हरदा जिले में पटाखा विस्फोट होने के बाद अब मलबे को हटाकर एक जगह इकठ्ठा कर दिया गया है. मलबा हटाने के दौरान फैक्ट्री परिसर से 16 ड्रम हजारों की संख्या में सुतली बमों से भरे मिले हैं. हरदा के एसडीएम के अनुसार मलबे में मिले सुतली बमों को इकठ्ठा किया गया है. इन सुतली बमों को पानी में डुबोया गया है. इसको नष्ट करने के लिए एफएसएल टीम और वरिष्ठ अधिकारियों की सलाह ली जाएगी. हरदा में 6 फरवरी मंगलवार को हुए फटाके फैक्ट्री विस्फोट के बाद जगह जगह सुतली बम हजारों की संख्या में मिल रहे हैं. शनिवार को जहां से मलबा हटाया, वहीं पर हजारों की संख्या में सुतली बम मिले हैं. जो मौके पर 16 ड्रमों में रखे हैं. देखें Video:-

इसके पहले शुक्रवार को भी हरदा के दिल्ली-मुंबई रेलवे ट्रैक के पास से करीब 75 बोरियां भरकर सुतली बम बरामद हुए थे. इससे पहले सिराली तहसील के पास स्थित एक नहर में नगरपलिका की गाड़ी से सुतली बम फेंकने का एक वीडियो वायरल हुआ था. पटाखा फैक्ट्री में ब्लास्ट के बाद से ही लगातार जिले में सुतली बम का जखीरा मिल रहा है. हरदा के SDM केसी परते का कहना है कि उन्होंने ब्लास्ट के बाद आसपास के क्षेत्र में फैले मलबे में से सुतली बम इकट्ठे करवाकर उन्हें पानी के ड्रमों में भरवाया है.

गुरुवार को जिले के सिराली क्षेत्र से एक नहर के पास नगर परिषद् सिराली की एक कचरा गाड़ी के साथ सुतली बम का वीडियो स्थानीय नागरिक ने वायरल किया था. सिराली आमासेल के किसान अभिषेक उपाध्याय ने aajtak से मोबाइल पर बात करते हुए कहा, सिराली और विक्रमपुर के बीच स्थित नहर पर नगर परिषद के वाहन में सुतली बम बड़ी संख्या में भरे थे. जिन्हें नहर में खाली किया जा रहा था. इसी दौरान उनका वहां से निकलना हुआ और उन्होंने रोककर पूछताछ की तो अंधेरे का फायदा उठाकर वो लोग भाग निकले जो सुतली बम खाली कर रहे थे. अंधेरा होने के कारण यह समझ नहीं आया कि वहां पर जिस वाहन से सुतली बम लाए थे, वह लोग कौन थे. हालांकि, वाहन नगर परिषद की कचरा गाड़ी है और उसे पर गाड़ी नंबर पांच लिखा हुआ है.

इसके बाद सिराली के तहसीलदार वीरेद्र उइके ने aajtak से मोबाइल पर बताया कि वीडियो गलत है. जिस अज्ञात व्यक्ति द्वारा फटाके फेंके जा रहे थे, उसके खिलाफ सिराली पुलिस थाने में अपराध दर्ज करा दिया गया है.

वहीं, नगर परिषद् के सिराली सीएमओ राहुल शर्मा ने मोबाइल पर aajtak से बात कटे हुए कहा, नगर परिषद का वाहन तहसीलदार द्वारा मंगाया गया था. इसलिए भेजा है लेकिन सुतली बम या पटाखों का परिवहन नगर परिषद के वाहन से नहीं हुआ है. जब उनसे सवाल किया गया कि वीडियो में नगर परिषद का वाहन दिखाई दे रहा है, तो उनका कहना था कि वाहन वहां से निकल रहा होगा, तभी किसी ने वीडियो बना लिया होगा.

इस मामले में हरदा के SDM केसी परते से सवाल किया किया कि पटाखा फैक्ट्री के मलबे में 16 ड्रम सुतली बम मिले हैं, तब उन्होंने कहा कि ऐसा है नहीं. हम लोगों ने जो सर्वे टीम बनाई थी और जो घटनास्थल है, उसके आसपास कुछ सुतली बम फैले हुए थे. उसको हमने इकट्ठा करवा कर पानी के ड्रम में भरवाया है. उसे हमने पानी में डुबा के रखा है, जिनकी संख्या 16 ड्रम है.

FIR दर्ज
सिराली में मिले 1.3 क्विंटल सुतली बम और हरदा रेलवे ट्रैक के पास मिले 70 बोरी सुतली बम के मामले में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ अलग-अलग थानों में अपराध दर्ज कर लिया है. हरदा एसपी अविनाश चौकसे ने aajtak से मोबाइल पर बताया कि पुलिस द्वारा अज्ञात आरोपी के खिलाफ मामला कायम किया है.

About bheldn

Check Also

MP: गर्भवती महिला के हाथ-पैर काटकर हत्या, फिर शव को जलाया, पुलिस को देख जलती चिता छोड़कर भागे ससुराल वाले

राजगढ़, मध्य प्रदेश के राजगढ़ जिले से हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. …