जय भीम के बाद जय फिलिस्तीन… लोकसभा में शपथ के दौरान ओवैसी ने लगाया नारा

नई दिल्ली,

18वीं लोकसभा के पहले सत्र के दूसरे दिन AIMIM प्रमुख और सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने शपथ ग्रहण के बाद जय फिलिस्तीन का नारा लगाया. शपथ के बाद उन्होंने सबसे पहले जयभीम बोला, इसके बाद जयमीम, जय तेलंगाना और जय फिलस्तीन का नारा लगाया. ओवैसी ने 5वीं बार लोकसभा सदस्य के रूप में शपथ ली. इस दौरान उन्होंने कहा कि मैं भारत के हाशिए पर पड़े लोगों के मुद्दों को ईमानदारी से उठाता रहूंगा. लेकिन फिलिस्तीन को लेकर लगाए गए नारे के बाद सियासत गरमा गई, इसके बाद सभापति ने इसे रिकॉर्ड से हटा दिया.

जय फिलिस्तीन के नारे के बाद सियासत शुरू
शपथ के दौरान जय फिलिस्तीन का नारा लगाने के बाद सियासत शुरू हो गई है, जब ओवैसी से पूछा गया कि आपने जो नारा दिया उसका विरोध हो रहा है, इस पर AIMIM प्रमुख ने जवाब दिया कि किसने क्या कहा क्या नहीं कहा, सब कुछ आपके सामने है. मैंने सिर्फ इतना कहा कि जय भीम, जय मीम, जय तेलंगाना, जय फिलिस्तीन… साथ ही कहा कि सबने क्या-क्या कहा वो भी सुनिए. ओवैसी ने कहा कि यह कैसे खिलाफ है, संविधान में प्रावधान दिखाएं.

शपथ पर ओवैसी की प्रतिक्रिया
बीजेपी नेता जी किशन रेड्डी ने ओवैसी के इस नारे का विरोध किया. साथ ही इसे रिकॉर्ड से हटाने की मांग भी की है, इस बारे में ओवैसी ने कहा कि वो (जी किशन रेड्डी) विरोध करते हैं, उनका ये काम है. हमने जो कहना था वो कह दिया है. हम उन्हें खुश करने के लिए कुछ क्यों कहेंगे?

बीजेपी नेता जी किशन रेड्डी ने किया विरोध
वहीं, बीजेपी नेता जी किशन रेड्डी ने कहा कि इस देश की संसद में शपथ लेने के दौरान जय फिलिस्तीन का जो नारा लगाया गया, वो पूरी तरह से गलत है. उन्होंने कहा कि वह (ओवैसी) एक तरफ संविधान की बात करते हैं, दूसरी तरफ संविधान के खिलाफ नारेबाजी करना. साथ ही भारत में रहकर फिलिस्तीन का गाना गाना, पूरी तरह से गलत है. ऐसी घटनाओं से इन लोगों का असली चेहरा सामने आता है. ये लोग हर दिन हर विषय पर ऐसी हरकत करते हैं. उन्होंने कहा कि मैं जनता से अनुरोध करूंगा कि वह लोकसभा में ऐसे नारे लगाने वालों को पहचाने.

लोकसभा स्पीकर पद के लिए चुनाव कल
बता दें कि 18वीं लोकसभा के पहले दिन (24 जून) को प्रधानमंत्री मोदी समेत कुल 262 नवनिर्वाचित सांसदों ने शपथ ली थी, जबकि शेष सांसदों का शपथ ग्रहण आज हो रहा है. वहीं, लोकसभा स्पीकर पद को लेकर सत्तापक्ष और विपक्ष के बीच घमासान मचा हुआ है. आम सहमति न बनने पर दोनों गठबंधनों (NDA-INDIA Bloc) ने अलग-अलग उम्मीदवार मैदान में उतारे हैं. 26 जून यानी कल लोकसभा की कार्यवाही शुरू होने के साथ प्रोटेम स्पीकर अगले अध्यक्ष का चुनाव करने के लिए मतदान कराएंगे. राजस्थान के कोटा से तीन बार के सांसद ओम बिड़ला केरल के मवेलीकारा से 8 बार के सांसद कोडिकुन्निल सुरेश के बीच सीधा मुकाबला होना है. ओम बिड़ला NDA के तो के. सुरेश INDIA Bloc के कैंडिडेट हैं.

About bheldn

Check Also

4 सांसदों की रिटायरमेंट के राज्यसभा में घटी बीजेपी की ताकत?, 86 पर पहुंची संख्या, जानें क्या होगी मुश्किल

नई दिल्ली, लोकसभा में पूर्ण बहुमत गंवाने के बाद अब बीजेपी को राज्यसभा में भी …